नई दिल्ली 

दूरदर्शन पर उर्दू भाषी कार्यक्रमों की घटती संख्या का मुद्दा उठा है। बहुजन समाज पार्टी के नेता और लोकसभा सांसद कुंवर अली ने इसपर चिंता जाहिर की है। साथ ही उन्होंने केंद्र सरकार को दूसरी बार पत्र लिखा है। पहले पत्र के जवाब में केंद्र सरकार ने कोविड-19 महामारी को बड़ी वजह बताया था। अब सरकार के इस जवाब पर अली असंतुष्ट नजर आ रहे हैं।

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर को अली ने पत्र लिखा, 'दूरदर्शन न्यूज बुलेटिन के संबंध में मैंने अपने पिछले पत्र में लिखा था कि मुझे मेरे सवाल का आपके 14 नवंबर 2022 को लिखे गए पत्र में सीधा जवाब नहीं मिला है, जहां कोविड-19 महामारी के कारण उर्दू न्यूज बुलेटिन घटकर 10 से 2 पर आ गई थीं। लेकिन अब हालात सामान्य हो गए हैं और आपके मंत्रालय ने उर्दू न्यूज बुलेटिन के वास्तविक नंबरों के वापस लाने के लिए कुछ नहीं किया है।' अली ने कहा कि न्यूज बुलेटिन के जरिए करोड़ों उर्दू रीडर्स को जानकारियां मिलती है और वे इससे लंबे समय से जुड़े हैं। सांसद ने सरकार से कोविड से पहले चलने वाले बुलेटिन्स को दोबारा शुरू करने की मांग की है। इससे पहले उन्होंने सरकार को 7 अगस्त को पत्र लिखा था।

सरकार ने क्या कहा?
ठाकुर ने अली के पहले पत्र में बताया था कि कोविड नियमों का पालन करने के लिए स्टाफ कम किया गया था। हालांकि, उन्होंने बुलेटिन को दोबारा उसी संख्या में चलाने के बारे में कोई बात नहीं की। ठाकुर ने लिखा, 'हिंदी और अंग्रेजी बुलेटिन और उर्दू बुलेटिन भी प्रक्रिया में कम किए गए हैं। आज तक 30-30 मिनट के रंग-तिरंग और सिनेमा की दुनिया नाम के दो उर्दू शो टेलीकास्ट किए जा रहे हैं। और गुड न्यूज इंडिया डीडी उर्दू पर दिखाया जा रहा है।' उन्होंने जानकारी दी कि कोलकाता, लखनऊ, पटना, श्रीनगर, भोपाल और हैदराबाद के डीडी ब्यूरो उर्दू के मामले में काफी योगदान दे रहे हैं।
 

Source : Agency