नई दिल्ली
एशिया कप में शानदार प्रदर्शन करने वाले विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 3 मैचों की टी20 सीरीज में भी कमाल की बल्लेबाजी की। उन्होंने 3 मैचों में 25.33 की औसत और 124.59 की स्ट्राइक रेट से 76 रन बनाए जिसमें हैदराबाद में लक्ष्य का पीछा करते हुए 63 रनों की पारी भी शामिल थी। उनके इस फॉर्म के बाद इस बात की चर्चाएं तेज हो गई थी कि क्या आगामी टी20 वर्ल्ड कप में उनकी बल्लेबाजी क्रम को लेकर बदलाव करना चाहिए।

मांग इस बात की भी उठने लगी थी कि क्या वर्ल्ड कप में उन्हें बतौर ओपनर आना चाहिए? ऐसा इसलिए भी था क्योंकि ओपनिंग करते हुए ही उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ सुपर 4 मैच में 61 गेंदों पर 122 रन की पारी खेली थी और तीन साल के अपने शतकों के सूखे को खत्म किया था।

अब कोहली के बल्लेबाजी क्रम को लेकर टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच संजय बांगर ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि यह एक नॉन डिस्कशन वाला मुद्दा है। स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए उन्होंने कहा कि "वह एक चैंपियन बल्लेबाज हैं। उन्होंने इतने लंबे समय तक भारत के लिए बेहतरीन प्रदर्शन किया है। वह जानता है कि वह उस दौर में है जहां वह अपने खेल का भरपूर लुत्फ उठा रहा है। वह जानता है कि लय वापस आ गई है और रनों की भूख वापस आ गई है। आप टीम के बाकी सदस्यों के साथ उनकी बॉडी लैंग्वेज देख कर यह समझ सकते हैं। यही वह चीज है जो आप उसमें देखना चाहते हैं।" उन्होंने कहा कि "हां एक फेज था जहां वह दबाव में थे। लेकिन ब्रेक के बाद वह जिस तरह से गेंदों को हिट कर रहे हैं वह देख कर लगता है कि वह चीजों को एंज्वॉय कर रहे हैं।"

विराट के बल्लेबाजी क्रम पर हेडन की राय
विराट कोहली के बल्लेबाजी क्रम को लेकर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज मैथ्यू हेडन ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि "वर्ल्ड कप में ऐसे किसी भी प्रयोग को करने की जरुरत नहीं है।" उन्होंने कोहली को ग्लू कहा और बताया कि वह ओपनिंग जोड़ी और मीडिल ऑर्डर के बीच की ग्लू हैं।

"हमने इस बारे में बहुत बात की है लेकिन मेरे लिए यह एक नॉन डिस्कशन मुद्दा है। यही कारण है कि वह नंबर 3 पर बल्लेबाजी करते हैं। केएल राहुल और रोहित शर्मा ओपनिंग में अच्छी साझेदारी करते हैं। कोहली नंबर तीन पर ग्लू का काम करते हैं जो ऑस्ट्रेलिया ने भारत के खिलाफ मिस किया था।"

Source : Agency