नई दिल्ली
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को पीएम मोदी के स्वतंत्रता दिवस पर दिए गए भाषण पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। पीएम ने अपने भाषण में कहा था कि भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद दो बड़ी चुनौतियां हैं जिनका देश आज सामना कर रहा है। इस पर जब राहुल गांधी के पूछा गया तो उन्होंने कहा, "मैं कोई टिप्पणी नहीं करूंगा। स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं।"

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने आजादी के 75 साल पूरा होने के मौके पर सोमवार को देशवासियों को शुभकामनाएं दीं और केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि देश ने इन 75 वर्षों में अनेक उपलब्धियां हासिल की, लेकिन आज की ‘आत्ममुग्ध सरकार’ स्वतंत्रता सेनानियों के महान बलिदानों और देश की गौरवशाली उपलब्धियों को तुच्छ साबित करने पर तुली हुई है। हालांकि राहुल गांधी पीएम के भाषण पर टिप्पणी करने से बचते नजर आए। उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा, "देखिए भैया मैं कमेंट नहीं करूंगा इन चीजों पर। आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की बहुत-बहुत बधाई।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 76वें स्वतंत्रता दिवस पर सोमवार को कहा कि आज जब देश ‘‘अमृत काल’’ में प्रवेश कर रहा है तो भ्रष्टाचार और परिवारवाद दो ऐसी प्रमुख चुनौतियां हैं जो राजनीति तक ही सीमित नहीं हैं। उन्होंने देशवासियों से इन विकृतियों से नफरत करने और अगले 25 सालों में ‘‘विकसित भारत’’ सुनिश्चित करने के लिए ‘‘पंच प्रण’’ लेने का आह्वान किया।

भाई-भतीजावाद और परिवारवाद के खिलाफ हल्ला बोलते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि दुर्भाग्य से राजनीति के क्षेत्र की इस बुराई ने हिंदुस्तान की हर संस्था में परिवारवाद को पोषित कर दिया है। मोदी ने हिंदुस्तान की ‘‘राजनीति के शुद्धिकरण’’ के लिए परिवारवादी मानसिकता से मुक्ति को अनिवार्य बताया। प्रधानमंत्री ने अंतरराष्ट्रीय स्पर्धाओं में भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन का उल्लेख करते हुए इसे चयन में पारदर्शिता लाने और भाई-भतीजावाद खत्म होने का असर बताया। उन्होंने कहा कि इसी का नतीजा है कि दुनिया के खेल के मैदानों में तिरंगा लहरा रहा है और राष्ट्रगान गाया जा रहा है।

इससे पहले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा और कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सोमवार को पार्टी मुख्यालय से ‘गांधी स्मृति’ तक ‘आजादी गौरव यात्री’ निकाली। कांग्रेस नेताओं ने 30 जनवरी मार्ग स्थित ‘गांधी स्मृति’ पहुंचकर बापू को श्रद्धांजलि अर्पित की। यह वही स्थान हैं जहां 30 जनवरी, 1948 को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या की गई थी।

कांग्रेस नेताओं ने देश की एकता के लिए काम करने का संकल्प भी लिया। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के कारण, सोमवार को पार्टी की वरिष्ठ नेता अंबिका सोनी ने अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय में ध्वजारोहण किया।

Source : Agency