रायपुर
कलेक्टर सौरभ कुमार ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के नोडल अधिकारियों की वर्चुअल बैठक ली। उन्होंने फ्रंटलाइन वर्कर्स के साथ-साथ स्कूली बच्चों के टीकाकरण की जानकारी ली तथा उनके टीकाकरण कार्य में गति लाने के निर्देश दिए। इसके लिए उन्होंने नगर निगम ,पुलिस और महिला एवं बाल विकास विभाग को विशेष रूप से कार्य करने पर जोर दिया।

कलेक्टर ने शासकीय चिकित्सालयों में स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थिति की जानकारी ली। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ मीरा बघेल ने बताया कि रायपुर जिले के फुंडहर और माना कोविड केयर सेंटर में पेशेंट भर्ती हो रहे हैं तथा जरूरत पड?े पर उनके लिए आॅक्सीजन बेड की व्यवस्था भी की गई है। अस्पतालों में अधिकांश मरीजों की स्थिति नियंत्रण में है और सुधार पर है। उन्होंने बताया कि जिले में अभी भी 92.8 प्रतिशत बेड रिक्त है।

होम आइसोलेशन की नोडल अधिकारी डॉ अंजली शर्मा ने बताया कि होम आइसोलेशन के लिए लगातार आवेदन आ रहे हैं और उन्हें होम आइसोलेशन की अनुमति देने के साथ-साथ चिकित्सकों के माध्यम से चिकित्सकीय सलाह तथा दवाइयां भी दी जा रही है। कोरोना कंट्रोल रूम के माध्यम से जरूरत पड?े पर मरीजों को अस्पताल शिफ्ट होने के लिए 24 घंटे एंबुलेंस की व्यवस्था भी की गई है। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी मयंक चतुवेर्दी सहित विभिन्न विभागों के नोडल अधिकारी भी उपस्थित थे।

Source : Agency