मथुरा
उत्तर प्रदेश सरकार के आदेश के बाद भगवान कृष्ण की नगरी मथुरा को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। हालांकि आम दिनों में भी कृष्ण जन्मभूमि पर सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी रहती है, लेकिन रविवार को सुरक्षा कड़ी करने की एक बड़ी वजह है। दरअसल, कुछ हिंदू संगठनों ने ये ऐलान किया है कि वो 6 दिसंबर को शाही ईदगाह मस्जिद में भगवान कृष्ण की मूर्ति को स्थापित करेंगे और उनका जलाभिषेक होगा। इस ऐलान के बाद रविवार को कृष्ण जन्मभूमि के आसपास सुरक्षा बहुत सख्त कर दी गई है। चप्पे-चप्पे पर नजर रखी जा रही है। पूरे मथुरा में धारा 144 लागू है। साथ ही जो भी श्रद्धालु जन्मभूमि जा रहा है, उसकी अच्छे से तलाशी ली जा रही है।

6 दिसंबर 1992 को ही अयोध्या में बाबरी मस्जिद को गिराया गया था। कल उसी की बरसी है। मथुरा की सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी देते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौरव ग्रोवर ने कहा कि सरकार ने शांति भंग न हो इसके लिए सख्त आदेश जारी किए हैं। उन्होंने बताया कि 6 अलग-अलग संगठनों ने फोन पर ये कहा है कि वो 6 दिसंबर को ईदगाह में कृष्ण की मूर्ति का जलाभिषेक करेंगे। ऐसी सूचनाओं के बाद हमने मंदिर परिसर के आसपास पैरामिलिट्री फोर्सेस की तैनाती कर दी है।

सोशल मीडिया पर रखी जा रही है बारिकी से नजर गौरव ग्रोवर ने बताया है कि हमने अभी तक स्थानीय प्रशासन और पुलिस की मदद से सभी पक्षों से बात की है। गौरव ग्रोवर ने बताया है कि राज्य पुलिस और अर्धसैनिक बलों ने मंदिर और शाही ईदगाह के चारों ओर एक ढाल बनाई है। बाहरी हालात के साथ-साथ हम सोशल मीडिया पर भी अच्छे से नजर रख रहे हैं। सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक कंटेंट को लेकर चार मामले दर्ज किए गए हैं और कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया है।
 

Source : Agency