भोपाल
विजयादशमी और वाल्मीकि जयंती के जरिये भाजपा उपचुनाव में भगवान राम फैक्टर की एंट्री करेगी। इसके लिए प्रदेश में एससी-एसटी मतदाता बाहुल्य 11 विधानसभा क्षेत्रों में होने वाले मतदान के लिए कांग्रेस और भाजपा अब जातीय और सामाजिक समीाकरण साधने में तेजी से जुट गए हैं। वोटिंग के पूर्व 20 अक्टूबर को बाल्मीकि जयंती पर उपचुनाव वाले क्षेत्रों में वृहद कार्यक्रम कराने की रूपरेखा बीजेपी ने तैयार कर ली है। भाजपा बाल्मीकि जयंती पर बाल्मीकि रामायण के जरिये कांग्रेस पर हमला करने की तैयारी में है। इसकी जानकारी के बाद कांग्रेस इसके  विरोध में उतरी है। इसके बाद अब दोनों ही दलों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।

भाजपा द्वारा भगवान राम के रावण पर विजय पर्व पर विजयदशमी के दिन विजय संकल्प दिवस मनाने के साथ रामायण के जरिये भगवान राम की जीवन कथा लिखने वाले महर्षि वाल्मीकि की जयंती मनाने की तैयारी है। इसके लिए खासतौर पर उन एससी-एसटी बाहुल्य विधानसभा क्षेत्रों पर पार्टी फोकस करेगी जहां चुनावी दृष्टि से इस वर्ग को साधने में पार्टी को मदद मिले। भाजपा उपचुनाव समिति की बैठक में मंत्री भूपेंद्र सिंह की मौजूदगी में हुई बैठक में इस पर निर्णय के बाद अब यह कार्यक्रम तय किया जा रहा है कि कौन से वरिष्ठ नेता 20 अक्टूबर को कहां पहुंचेंगे और बाल्मीकि जयंती के कार्यक्रमों में शामिल होंगे।

उधर कांग्रेस इस मामले में शिकायत करने की तैयारी में है। इस पर भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने बुधवार को किए ट्वीट में कहा है कि अब कांग्रेस को भाजपा द्वारा महर्षि बाल्मीकि का स्मरण करने पर भी समस्या है। कांग्रेसी जानते हैं कि महर्षि बाल्मीकि की बात होगी तो भगवान राम का स्मरण साथ होगा। रामसेतु और राम मंदिर पर रामद्रोही की भूमिका निभाने वाले कांग्रेसी इसे कैसे पचा सकते हैं।

15 अक्टूबर को विजयादशमी के दिन को विजय संकल्प दिवस के रूप में मनाने की तैयारी में जुटी भाजपा ने इसके लिए भी वरिष्ठ नेताओं की ड्यूटी लगाई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस दिन रैगांव विधानसभा के सिमरवाड़ा में विजय संकल्प ध्वज फहराएंगे। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत शर्मा पृथ्वीपुर में ध्वज फहराएंगे। प्रदेश अध्यक्ष के साथ नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह भी उपस्थित रहेंगे। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय खंडवा लोकसभा के बड़वाह में इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। शेष सभी स्थानों पर भी पार्टी के वरिष्ठ नेतागण विजय संकल्प ध्वज कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे।

Source : Agency