जोबट
जोबट विधानसभा उपचुनाव से दीपक भूरिया को नामांकन वापस लेने जाना भारी पड़ गया। उनके खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन करने पर प्रकरण दर्ज किया गया है। पूर्व विधायक कलावती भूरिया के भतीजे दीपक भूरिया ने कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर निर्दलीय के रूप में नामांकन जमा कर दिया था। उन्हें मनाने के लिए कांग्रेस ने कांतिलाल भूरिया, विजय लक्ष्मी साधो, रवि जोशी और विक्रांत भूरिया को जिम्मेदारी सौंपी थी। इन चारों नेताओं ने मंगलवार को दीपक भूरिया को मना लिया और उनका नामांकन वापस करवाया। दीपक भूरिया नामांकन वापस लेने के लिए अपने समर्थकों और वाहनों के काफिले के साथ पहुंचे। जिसे यहां की पुलिस ने आयोग के दिशा-निर्देशों को नजर अंदाज करते हुए आचार संहिता का उल्लंघन माना और दीपक भूरिया सहित वाहन चालकों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया।

Source : Agency