इंदौर
इंदौर (Indore) क्राइम ब्रांच, खाद्य एवं औषधि विभाग और भंवरकुआ पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई कर मंगलवार रात को भवरकुआं थाना क्षेत्र में स्थित नकली घी (Fake Ghee) बनाने वाली एक कंपनी पर छापामार कार्रवाई करते हुए 4200 किलो अमानक स्तर का घी और 4100 किलो अमानक स्तर की चायपत्ती बरामद की है। क्राइम ब्रांच को सूचना मिली थी कि फैक्ट्री में मिलावट और एक्सपायरी डेट (Expiry date) के घी पैकिंग कर बाहर के जिलों में सप्लाय किया जा रहा था। सूचना पर क्राइम ब्रांच ने कार्रवाई करते हुए फैक्ट्री संचालक खिलाफ मामला दर्ज किया है।

 

 

दरअसल इन्दौर क्राइम ब्रांच को मुखबिर से सूचना मिली थी कि भवरकुआं थाना क्षेत्र के पालदा इलाके में स्थित श्रीरामपुर डेयरी इंडस्ट्री में लंबे समय से अमानक स्तर का मिलावटी घी का उत्पादन किया जा रहा है और एक्सपायरी डेट के घी को पैकिंग कर बेचा जा रहा है। सूचना के बाद क्राइम ब्रांच, खाद्य विभाग और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में मौके से 4200 किलो अमानक स्तर का घी और अमानक स्तर की 4100 किलो चायपत्ती बरामद की गई है जिसकी कीमत लगभग 20 लाख और चायपत्ती का कीमत 7 लाख रुपये बताई जा रही है। इधर, छापे की कार्रवाई के दौरान डेयरी के संचालक नरेंद्र गुप्ता व डेयरी मालिक मंजू अग्रवाल को गिरफ्तार कर कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।


भंवरकुआ टीआई संतोष दूधी और खाद्य सुरक्षा अधिकारी पुष्पक कुमार ने बताया कि कम्पनी के संचालक मुंबई, बड़ोदरा जैसे शहरों की अलग-अलग कंपनियों से एक्सपायरी डेट का घी खरीदकर बाजार में नई पैकिंग कर अपने ब्रांड मदर च्वाइस के नाम से मध्यप्रदेश के रतलाम, नीमच, देवास, हरदा, भानपुरा, भोपाल, शुजालपुर, शाजापुर,  मक्सी, जबलपुर, मंदसौर, सीहोर, अशोकनगर और महाराष्ट्र के नागपुर, अकोला जैसे शहरों मे माल भेजा जाता था। फिलहाल, पुलिस आरोपियो से पूछताछ करने के जुटी है और पूरे मामले की तफ्तीश बारीकी से कर रही है।

Source : Agency