इंदौर
 
कोरोनाकाल में ऑनलाइन स्टडी की डिमांड को देखते हुए  देवी अहिल्या विश्वविद्यालय यूनिवर्सिटी ने शिक्षा सत्र 2021-22 के लिए 9 नवीन ओपन ऑनलाइन कोर्स शुरू होने वाले हैं। आप इनमें से कोई भी विकल्प चुन सकते हैं।


तक्षशिला परिसर स्थित ईएमआरसी से मुक्स कोर्स संचालित हो रहे हैं, जिसमें अमेरिकी साहित्य, ई-कामर्स, भारतीय अर्थव्यवस्था-भाग एक, अनुसंधान विधि, परामर्श मनोविज्ञान, साफ्ट स्किल्स, पर्यावरण जैव प्रौद्योगिकी, इतिहास सहित प्रस्तावों के लिए विषयों का चयन किया। साथ ही हिंदी साहित्य और हिंदी भाषा भी रखे हैं। ये सारे पाठ्यक्रम को हरी-झंडी मिलने के बाद सालभर में कभी भी इन्हें संचालित किया जा सकता है। प्रत्येक कोर्स के लिए 40 से अधिक वीडियो लेक्चर बनाएंगे। कंटेंट के साथ-साथ वर्कशीट और टेस्ट भी रखे हैं।

2018 से शुरु हुए ओपन ऑनलाइन कोर्स
2018 में मानव संसाधन व विकास मंत्रालय यानी अब शिक्षा मंत्रालय ने मुक्स कोर्स की शुरुआत की। विश्वविद्यालय ने पहले साल सिर्फ पांच कोर्स रखे। 12 हजार विद्यार्थियों ने रजिस्ट्रेशन किया। धीरे-धीर कोर्स की संख्या बढ़ाई गई। आनलाइन सर्टिफिकेट-डिप्लोमा कोर्स में यूजीसी ने क्रेडिट देना शुरू कर दिए है। इसका फायदा विद्यार्थियों को मूल कोर्स की मार्कशीट में नजर आएगा। मार्च 2021 में साइबर फारेंसिक, रिटेल एंड मैनेजमेंट, कंप्यूटर नेटवर्क, डिजिटल मार्केटिंग कोर्स शामिल थे। कुछ पाठ्यक्रम में आइआइएम के प्राध्यापकों की मदद ले रहे हैं। वैसे मैक्रो इकोनोमिक्स, माइक्रो इकोनोमिक्स, मार्केटिंग के प्रिंसिपल और आयकर कानून व प्रथाएं भी तैयार किए हैं।

DAVV MOOCs में 40000 स्टूडेंट्स रजिस्टर्ड
2018 से लेकर अब तक डीएवीवी ने 30 से ज्यादा कोर्स संचालित किए जा चुके हैं। लगभग 40 हजार विद्यार्थियों कोर्स में रजिस्टर्ड है। मार्च 2020 के बाद छात्र-छात्राओं की संख्या बढ़ी है। ईएमआरसी के प्रभारी निदेशक व मीडिया प्रभारी डा. चंदन गुप्ता का कहना है कि नौ मुक्स कोर्स का प्रस्ताव बनाया है। यूजीसी को भेजा जाएगा। मंजूरी मिलने के बाद ई-कंटेंट अपलोड करेंगे।

Source : Agency