उज्जैन
प्रदेश की समग्र ग्रामीण आबादी को जल जीवन मिशन में घरेलू नल कनेक्शन से पेयजल की आपूर्ति किए जाने के लिए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा जल संरचनाओं की स्थापना एवं विस्तार के कार्य किए जा रहे हैं। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा उज्जैन संभाग में 688 जलप्रदाय योजनाओं के कार्य जारी हैं जिनकी कुल लागत 609 करोड़ 19 लाख 88 हजार रूपये है। उज्जैन संभाग के सातों जिलों के करीब 15 लाख ग्रामीण परिवारों को नल कनेक्शन के जरिये जल उपलब्ध कराने का कार्य किया जा रहा है। पूर्ण हो चुकी जलप्रदाय योजनाओं से 5 लाख 91 हजार से अधिक ग्रामीण परिवारों को नल कनेक्शन के जरिये जल उपलब्ध करवाया जा चुका है।

जल जीवन मिशन के अन्तर्गत ग्रामीण आबादी को शुद्ध पेयजल की समुचित व्यवस्था किए जाने की दिशा में सरकारी प्रयास तेजी से जारी हैं। जहाँ जलस्त्रोत हैं, उनका उपयोग कर आसपास के ग्रामीण रहवासियों को पेयजल प्रदाय किया जायेगा और जहाँ नहीं हैं वहाँ जलस्त्रोत निर्मित किए जायेंगे। प्रदेश की समूची ग्रामीण आबादी के लिए यह व्यवस्था पूरी होने तक चरणबद्ध तरीके से जारी रहेगा।

उज्जैन संभाग की प्रगतिरत जलसंरचनाओं में उज्जैन जिले की 107, देवास 175, शाजापुर 72, आगर मालवा 39, रतलाम 164, मंदसौर 106 तथा नीमच की 25 जलसंरचनायें शामिल हैं। इन जिलों के विभिन्न ग्रामों में पूर्व से निर्मित पेयजल अधोसंरचनाओं को नये सिरे से तैयार कर रेट्रोफिटिंग के अन्तर्गत भी कार्य किया जा़ रहा है।

Source : Agency