बॉलीवुड एक्ट्रेस मल्लिका शेरावत लंबे वक्त से बड़े पर्दे से दूर हैं। लेकिन इसके बावजूद वह आए दिन सुर्खियों में बनी रहती हैं। मल्लिका को फिल्मों में उनके बोल्ड अवतार की वजह से जाना जाता है। उन्होंने साल 2003 में फिल्म ‘ख्वाहिश’ से अपना बॉलीवुड करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद ‘मर्डर’ फिल्म में उन्होंने इतने बोल्ड सीन दिए थे कि वह लंबे वक्त तक चर्चा में बनी रहीं। अब मल्लिका ने खुद को लेकर ऐसा खुलासा किया है कि वह फिर से सुर्खियों में आ गई हैं। एक्ट्रेस ने बताया कि उन्होंने महिलाओं के एक वर्ग ने इतना तंग किया कि उन्होंने देश छोड़ने का फैसला कर लिया था।  इंटरव्यू में मल्लिका ने बताया कि जब उन्होंने एक्टिंग में अपना करियर बनाने का तय किया तो उन्हें अपने ही घर में पितृसत्ता से लड़ना पड़ा था, जोकि उनके लिए काफी मुश्किल था। जिसकी वजह से वह घर से भाग गईं। उन्होंने कहा, मुझे परिवार के विरोध का सामना करना पड़ा। मेरे पिता बेहद रूढ़िवादी हैं। मेरी मां और भाई भी। उस वक्त मेरे सपोर्ट में कोई भी नहीं था। इसलिए एक्ट्रेस बनने के लिए मैं घर से भाग गई। मल्लिका ने बताया, मुंबई आते ही सब ठीक हो गया। मेरे पास कभी पैसे की कमी नहीं हुई क्योंकि मेरे पास बहुत सारे गहने थे जिन्हें मैंने बेच दिया। उनसे मैंने मुंबई में अपना खर्च उठाया। लेकिन घर से भागने के फैसले से मेरी मां का दिल टूट गया था। मेरी वजह से परिवार में बहुत कलह हुआ था। मल्लिका ने बताया कि उन्हें मुंबई का कल्चर अपनाने में और वहां बसने में वक्त लगा। मल्लिका कहती हैं कि पिछले कुछ वक्त सालों में समाज का विकास हुआ है। अब लोग उस तरह की फिल्मों के प्रति अधिक सहिष्णु हैं, जो उन्होंने अपने शुरूआती दौर में की थी। आज लोगों के लिए न्यूडिटी कोई बड़ी बात नहीं है। इसके बाद मल्लिका ने खुलासा किया कि मीडिया के एक निश्चित वर्ग द्वारा टारगेट किया गया था। जिसमें मुख्य रूप से महिलाएं शामिल थीं। पुरुषों को उनके साथ कभी कोई समस्या नहीं थी। मल्लिका ने कहा, मीडिया के एक खास वर्ग ने मुझे तंग किया और मुझे परेशान किया। उनमें ज्यादातर महिलाएं थीं। पुरुषों को मुझसे कभी कोई समस्या नहीं रही। उन्होंने मेरी हमेशा सराहना की है। मुझे कभी समझ नहीं आया कि ये महिलाएं मेरे खिलाफ क्यों हैं और मेरे लिए इतनी खराब क्यों हैं? इसलिए मैंने कुछ समय के लिए देश छोड़ दिया क्योंकि मैं ब्रेक चाहती थी। मल्लिका ने ये भी कहा, आज वे महिलाएं मुझे स्वीकार कर रहे हैं, और वे मुझे अधिक प्यार करने लगे हैं, जिसका मैं वास्तव में आनंद ले रही हूं।

Source : Agency